Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

मंगलवार, 30 जून 2015

कितना भी हाथ पैर मार लो हिन्दी वेबसाइट का ट्रेफिक बढ़ाना आज भी टेढ़ी खीर है।

how to increase hindi website traffic
मै ये पोस्ट परेशाान होकर नही अपितु ​मार्गदर्शन के लिये लिख रहा हूं उन लोगों के लिये जिन्होने हाल ही में वेबसाईट शुरू की है हिन्दी में। या वे किसी लालच में आकर अपनी हिन्दी में वेबसाईट शुरू करना चाह रहे हैं। आज दिनांक तक मेरा जो ब्लाग है वह आज भी एक उम्मीद से कोसो दूर है जो कि मैने आज से 7—8 साल पहले की थी, जब मैने अपना ब्लॉग शुरू किया था। चूंकि मै हिन्दी मिडियम से पढ़ा ​हूं तो इंग्लिश में चाह कर भी आत्मविश्वास की कमी से ब्लॉग नही बनाया या लिख सका। यदि आप भी निराश हो चुके हैं तो धैर्य रखिये कोई जादुई ट्रिक या एक साथ ढेर सारा ट्रेफिक बढ़ाने वाले दावो में मत आईये क्यूकि वे आपकी वेबसाईट का ट्रेफिक कुछ समय तक ही बरकारार रखते जब तक आप उन्हे भुगतान करते हैं उसके बाद आपकी साईट वापस औंधे मुंह नीचे गिर जाती है ट्रेफिक के मामले में। कोशिश करें की वास्तविक तरीकों को अपनाये जिसे टेक्निकल भाषा में आॅर्गेनिक ट्रेफिक कहते हैं। कुछ आजमाये ​हुए तरीके मै यहां बता रहा हूं लेकिन ये आपका ट्रेफिक एकदम से नही बढ़ाएंगे बक्लि आपकी वेबासाइट के लिये ईमानदार पाठक बढ़ाएंगे —



  • अपनी पोस्ट को अपने फेसबुक वॉल के साथ साथ कुछ ग्रुप्स में शेयर करें साथ की अपनी साईट या ब्लॉग के फेसबुक पेज पर भी शेयर करें।
  • अपनी पोस्ट को वाट्सएप ग्रुप में भी शेयर करें।
  • गूगल प्लस की वॉल पर भी अपनी पोस्ट शेयर करें।
  • कुल मिलाकर ये टिप्स ही काम आएंगे यदि इसके अलावा भी आपके पास कुछ सुझाव हों तो कमेंट के माध्यम से बताएं। 
  • अपने ब्लॉग पर ईमेल सब्सक्रिप्शन विजेट अवश्य लगाएं ताकि आपकी नई पोस्ट आपके पाठकों तक पहुंच सके।
चूंकि मै कोई search engine optimization professional नही हूं। अत: आपके मार्गदर्शन के लिये बस इतना ही।


 मैने एक फेसबुक पर हिन्दी ब्लॉग रीडर नाम से ग्रुप बनाया है जिसमें कि आप ज्वाइन करने के बाद अपने मित्रों को ज्वाइन करवा सकते हैं, क्योकि आखिर कब तक हिन्दी ब्लॉगर अपने ब्लॉग एक दूसरे को पढ़ाते रहेंगे। इसमें आप उन लोगों को जोड़ने की कोशिश करें जो वास्तव में हिन्दी में कुछ नया पढ़ना चाहते हैं। न कि इधर का मॉल उधर करना चाहते हैं मतलब पोस्ट को कॉपी कर अपनी वेबसाईट पर डालना चाहते हैं।
https://www.facebook.com/groups/hindiblogsreaders/ 

http://hindibloggerhub.blogspot.in/

3 टिप्‍पणियां:

  1. एक बात आपने कहा नहीं .... अपने ब्लॉग को यथासंभव ब्लॉग एग्रिगेटरों में शामिल करें ताकि अनके पाठको तक भी आपका ब्लॉग पहुँचे. मेरी नजर में यह एक स्वच्छ एवं जायज जरिया है पाठकों की संख्या बढ़ाने का.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. एक महत्वपूर्ण सुझाव देने के लिये आपका धन्यवाद!

      हटाएं
  2. बढ़िया और सार्थक सुझाव, वैसे अभी हिन्दी ब्लॉग के लिये ट्रैफिक जुटाना मुश्किल ही है. सादर..

    नई कड़ियाँ :- एलोवेरा ( घृतकुमारी ) के लाभ और गुण

    डॉ. ए पी जे अब्दुल कलाम - महत्वपूर्ण उद्धरण और विचार

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...