Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

शुक्रवार, 11 जनवरी 2013

फ्रेंडशिप क्लब के नाम पर खुली लूट जारी है भोपाल में


friendship club scam in Bhopal, India

मेरे एक मित्र ने मुझे बताया कि उनका एक मित्र फ्रेंडशिप क्लब द्वारा ठगा गया। मैने तुरंत उनसे उस मित्र सेे मिलाने की इच्छा जताई। चंूकि यह व्यक्ति शादीशुदा है और अपना नाम गुप्त रखना चाहता है इसलिये मै यहाँ उसके द्वारा बताये गये घटनाक्रम को अपने शब्दों में मय दस्तावेजीसाक्ष्य से प्रस्तुत कर रहा हँू आप सभी से निवेदन है कि कृपया इसे सोशल नेटवर्किंग साईट्स पर शेयर करें ताकि लोग जागरूक हो सकें-

जैसा कि उसने मुझे बताया :
मैने गत ७ जनवरी को न्यूजपेपर में आवश्यकता कॉलम में एक विज्ञानपन देखा और दिये गये नम्बर पर कॉल किया। दूसरी तरफ से श्वेता नामक लड़की ने बताया कि आप को हमारे फ्रेन्डशिप क्लब का मेम्बर बनने के लिये मात्र २००० रू हमारे एचडीएफसी के बैंक अकाउंट में जमा करना है। मेरे मित्र ने कहा कि मेरे पास तो २००० रू नही है।
फिर दूसरे दिन उसी नम्बर 08130817088 से उसके पास कॉल आया कि आप चाहे तो ३ माह की मेम्बरशिप ले सकते हैं जिसकी फीस है मात्र 1000 रू । लेकिन फिर भी उस मित्र ने पैसा जमा करवाने में असमर्थता जाहिर की तभी दूसरी तरफ से मधु नामक लड़की ने कहा कि आप को हम जिन महिलाओं से मीटिंग करवायेंगे वह प्रत्येक मीटिंग का आपको 30,000 रू. पेमेंट करेंगी। मेरे मित्र ने पूछा कि इसके लिये क्या करना होगा उसने बताया कि जैसे ही आप हमारे अकाउंट में पैसा डालेंगे आधे घंटे के अंदर आपके पास एक कॉल आयेगी जिसमें आपको एक गाड़ी का नंबर दिया जायेगा और पासवर्ड बताया जायेगा फिर वह गाड़ी आपको मेडम के पास ले जायेगी और आपको उस मेडम को सेक्सुअली सेटेसफाई करना है उसके बाद वह मेडम आपको पेमेंट कर देगी। हाँ एक बात और आपको गाड़ी का चार्ज रू. 200 यानि की कुल 1200 रू जमा करवाना है।
RIGHT CLICK
AND OPEN IN
NEW WINDOW
FOR ZOOM
BHASKAR CLASSIFIED
8 JAN'2013
तब वह मित्र लालच में आ गया और उसने उनके एचडीएफसी के बैंक अकाउंट का नम्बर मांगा। तब उस लड़की मधु ने कहा कि आप पहले एचडीएफसी बैंक में पहुंचे और बैंक का कोड पता कर हमें बतायें फिर आपको अकाउंट नं दिया जायेगा। मित्र दोपहर के 12 बजे, जोन-2, एम.पी. नगर स्थित एचडीएफसी बैंक की शाखा में पहँुच गया । और उसने उस लड़की से अकाउंट नं (jitdendar suri 10001000011746 hdfc bank) लेकर 1200 रू. जमा करवा दिये।
लेकिन दिन के २ बजे तक भी उसके पास कोई कॉल नही आया तब वह मित्र समझ गया कि उसे ठगा गया है उसने लगातार आधे घंटे तक उस नम्बर कर कॉल किया वहाँ से उस मधु नाम लड़की ने लगातार आश्वाशन ही आश्वान दिया लेकिन फिर भी उस मित्र ने कई कॉल उस नम्बर किये अंत में दिन के ४ बजे उसके पास एक मेरठ साईट की भाषा में बात करने वाले किसी लड़के का इस नं से कॉल कि तुम्हारा पासवर्ड या मेम्बरशिप नं इतना इतना है अभी आप ऐसा करो उसी अकाउंट में बैंक में 15000 रू जमा करवाओं। मित्र ने पूछा किसलिये उसने बताया कि हमारी मेडम आपके भोपाल के न्यू मार्केट एरिये में अपने रिश्तेदार के यहाँ ठहरी हैं उन्हें आपके साथ मीटिंग करनी है और आपको उन्हें सेक्सुअली सेटिसफाई करना है चंूकि मेडम अच्छे परिवार से हैं इसलिये आप पर भरोसा नही कर सकती इसलिये आप सिक्योरिटी के तौर पर 15000 रू जमा करवायें और हाँ मेडम से भी हमने इतने ही रू जमा करवाये हैं आपके लिये। मीटिंग खत्म होते ही मेडम आपको 25000 रू पेमेंट कर देंगी। तभी उस मित्र ने उस फोन करने वाले लड़के को फटकार लगाते हुए कहा कि क्या ठगने का धंधा खोल रखा है। तब उस लड़के ने मेरठी भाषा में अपशब्द कहें और कहा कि भोपाल में ही तुझे मार कर फेंक देगें पता भी नही पड़ेगा कि किसने मारा।
इस तरह वह मित्र डर गया और उसने अपना मोबाईल बंद कर दिया। दूसरे दिन फिर उसी लड़के का कॉल आया तो उसने बहाना बना दिया कि ये उसका नंबर नही है।
मैने उसकी यह कहानी सुन कर एक प्रेस रिपोर्टर को फोन पर बताया कि न्यूज पेपर में इस तरह को ढेरों विज्ञापन छप रहें है उसी विज्ञापन दाता द्वारा इस वंदे को ठगा गया है तो उस रिपोर्टर ने जबाब दिया कि हम फ्रेंडशिप क्लब की न्यूज छापते नही हैं। फिर मैने उस मित्र को समझाइस दी कि भोपाल साईबर सेल में शिकायत कर देते हैं लेकिन वह नही माना उसने कहा कि जाने दो यार 1200 रू कौन पुलिस थाने और बाद में अदालत में गवाही के लिये चक्कर काटेगा। उसने मुझसे हाथ जोड़कर निवेदन किया कि किसी को कृपया कर मेरा नाम मत बता देना नही तो लोग हँसेगें बदनामी होगी सो अलग।

इस प्रसंग का सार यह समझ आता है कि हम जैसे आम लोगों को अपनी समझदारी या बुद्धिमानी पर घमंड होता हे कि हमें कोई बेवकूफ नही बना सकता। लेकिन महान लोगों ने कहा है कि बुद्धिमानी की सबसे बड़ी कमजोरी उसका बुद्धिमानी होने का घमंड होता है। लोगों को जो लोग संगठित रूप से बेवकूफ बना रहे हैं उनका एक सिस्टम होता है जो ऐसे ही लोगों को चुनता है जो अपनी बुद्धिमानी के घमंड से भरे होते हैं और जब मूर्ख बनते हैं इन लोगों द्वारा तो बताने में शर्माते हैं क्योकि लोग इन्हें भविष्य में ताने मार मार कर इसी प्रसंग की याद दिलाते रहेंगे।

29 jan'2013
call girls in bhopal
17 april 2013 raj express bhopal

1 टिप्पणी:

  1. आज काल तो लडके फेसबुक पर लडकी बन कर इस प्रकार के नाटक शुरू किये हुए है .

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...