शनिवार, 29 सितंबर 2012

जो करेंगे सो भरेंगे तू क्यों भयो उदास

कबीरा तेरी झोंपढी गल कटीयन के पास,
जो करेंगे सो भरेंगे तू क्यों भयो उदास.

bhaskar indore and bhopal 28 sept 2012

bhaskar bhopal 28 sept 2012

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...