बुधवार, 7 जुलाई 2010

Desktop Publishing डैक्सटॉप पब्लिशिंग



esktop Publishing (डीटीपी या डैक्सटॉप पब्लिशिंग ऎसा प्रोफेशन है, जिसके लिए किसी विशेष शैक्षणिक योग्यता की जरूरत नहीं। यदि आप ग्रेजुएट हैं तो कोई अच्छा कम्प्यूटर कोर्स करके डैक्सटॉप पब्लिशिंग का काम शुरू कर सकते हैं। जिसे कम लागत से शुरू किया जा सकता है। इसे डैक्सटॉप पब्लिशिंग इसलिए भी कहा जाता है क्योंकि इसमें सारा काम एक ही डैस्क पर समेटकर किया जाता है। कुछ समय पहले तक हमारे यहां विजिटिंग कार्ड, वेडिंग कार्ड का काम मैनुअल टाइपसेट की मदद से किया जाता था। लेकिन, आज ऎसा नहीं है। आज अगर आप कोई कार्ड प्रिंट करवाते हैं तो कम्प्यूटर की मदद से उसे बढि़या डिजाइन कर सकते हैं। डैक्सटॉप पब्लिशिंग मंय मुख्यरूप से उद्योग और शिक्षा क्षेत्र में उत्तम पब्लिकेशन की मांग के चलते उछााल आया है।






पब्लिकेशन उद्योग में इस समय बड़ी संख्या में डीटीपी आपरेटर्स की मांग है। किसी कंपनी के साथ न भी जुड़े तो किसी कॉलेज या यूनिवर्सिटी के आसपास भी अपना काम शुरू करते हैं, तो आपको थीसिस या फिर प्रोजेक्ट वर्क बहुत मिल सकता है। डीटीपी के अंतरर्गत सामान्यत: टैक्सट कंपोजिंग होती है। इसमें थीसिस व बुक कंपोजिंग, डिजाइनिंग में विजिटिंग कार्ड, इंविटेशन कार्ड, वेडिंग कार्ड आते हैं। डाटा, टेक्स्ट व फोटोग्राफ्स आदि को कम्प्यूटर प्रोग्राम्स के इस्तेमाल से फॉरमेट कर पब्लिकेशन के लिए मटेरियल तैयार किया जाता है। इसके साथ—साथ स्केंनिंग व कलर प्रिटिंग का भी काम करना होता है। एक डीटीपी आपरेटर को पर्सनल कम्प्यूटर और हाई रिजोल्यूशन प्रिंटर पर काम करना होता है। कम्प्यूटर प्रोग्राम्स के जरिए विभिन्न प्रकार के फोंट, फोंट साइज, पेज लेआउट, कॉलम जस्टिफिकेशन और ग्राफिक लाइब्रेरी का इस्तेमाल कर मटेरियल की डिजाइनिंग इसका मुख्य जॉब प्रोफाइल होता है। आवश्यक योग्यताएं — डैक्सटॉप पब्लिशिंग के काम की शुरूआत के लिए जरूरी है कि आपको कम्प्यूटर फंडामेंटल की पूरी जानकारी हो। साथ ही नए प्रोग्राम्स के साथ नए साफ्वेयर का भी अपको नॉलेज हो। इसके लिए सबसे जरूरी है आपकी एमएस ऑफिस, कोरलड्रा, एडोब फोटोशॉप जैसे साफ्टवेयर्स पर मजबूत पकड़ हो। वहीं, शैक्षणिक योग्यताओं में अगर आप ग्रेजुएट हैं और कम्प्यूटर की जानकारी नहीं है तो पीजीडीसीए, डीसीए या एमसीएम जैसा कोई कोर्स करें। इसमें आपको विभिन्न साफ्टवेयरों के बारे में जानकारी दी जाती है। इसके अलावा इंटरनेट की जरूरी ट्रेनिंग भी फायदेमंद साबित हो सकती है। इसके साथ आपके अंदर कुछ अन्य योग्यताएं भी होना चाहिए। जैसे एडवांस कम्प्यूटर स्किल्स, एडवांस डिजाइंस की जानकारी, प्री—प्रेस स्किल्स, प्रिटिंग तकनीक की जानकारी और सबसे मुख्य है क्रिएटिविटी।


आमदनी — एक अच्छा डीटीपी ऑपरेटर महीने में 6 हजार से लेकर 12 हजार तक कमा सकता है । मीडिया के क्षेत्र में विशेषकर प्रिंट मीडिया में अच्छे डीटीपी आपरेटर्स की भारी मांग होती है। डैक्सटॉप पब्लिशिंग के साथ अगर वेब डिजाइनिंग तकनीकों में कुशलता और एनीमेशन के क्षेत्र में भी अनुभव है तो कòरियर को नई ऊंचाइयों पर पंहुचाया जा सकता है।

2 टिप्‍पणियां:

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...